ALL ब्रेकिंग क्षेत्रीय राज्य देश विदेश राजनीति मनोरंजन स्वास्थ्य
एक मॉडल को अपने प्लान में उलझाकर उसकी अश्लील फिल्म बनाने वाले रैकेट का हो गया भांडाफोड़, कथित कॉस्टिंग डायरेक्टर को कर लिया गयागिरफ्तार
July 30, 2020 • Rajesh Jauhri • क्षेत्रीय

धार जिले के धामनोद की रहने वाली इस मॉडल युवती ने साइबर पुलिस को शिकायत में बताया कि उसे वेब सीरीज के नाम पर धोखा देकर अश्लील फ़िल्म गई और उसे पोर्न वेबसाइट पर डाल दिया। पुलिस ने पांच की घेरेबंदी शुरू की है। इसमें मिलिंद से पूछताछ चल रही है, जबकि ब्रिजेंद्र फरार है। गिरफ्तारियों के बाद बड़ा खुलासा होने की आशंका है।
युवती ने अपनी शिकायत में बताया कि दिसंबर 2019 में उसे ब्रिजेंद्र नाम के एक व्यक्ति ने वेब सीरिज में काम दिलाने का झांसा दिया और एक फार्म हाउस पर ले गया। युवती वहाँ अपने दोस्त और कॉस्टिंग डायरेक्टर मिलिंद के साथ वहां पहुंची थी। वहाँ ब्रिजेंद्र ने उसे एक बोल्ड मूवी सीरिज में काम दिलाने के बहाने कुछ बोल्ड सीन की शूटिंग की। उससे कहा गया था कि अश्लील कंटेंट हटाकर इसे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज करेंगे। युवती इस फिल्म की रिलीज का इंतजार करती रही। बाद में उसकी जानकारी के बगैर ये फिल्म पॉर्न वेबसाइट पर सभी अश्लील और बोल्ड सीन के साथ डाल दी गई। इस बात की जानकारी युवती को एक परिचित दी और कहा कि अब तक इसे करीब 4 लाख लोग देख चुके हैं। उसने ब्रिजेंद्र और अपने दोस्त मिलिंद से संपर्क किया, तो उन्होंने उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया। शिकायत पर मिलिंद सहित 5 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने मिलिंद को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की है, ब्रिजेंद्र फरार है। अभी जांच जारी
सायबर सेल के एसपी जितेंद्र सिंह ने कहा कि मॉडल युवती ने बोल्ड फिल्म बनाकर इंटरनेट पर पोर्न साइट पर अपलोड करने की शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने संदेह में कुछ लोगों को पकड़कर पूछताछ की है। ये एक बड़ा गिरोह है जो युवतियों को इंटरनेट पर लोकप्रिय हो रहे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर लांच करने का झांसा देकर अश्लील फिल्में बनाता है।

 

कई को झांसा दिया

जांच में खुलासा हुआ कि ये पोर्न फिल्म बनाने वाला रैकेट है। फिल्मों और वेब सीरिज का झांसा देकर मॉडल युवतियों को बोल्ड सीन देने के लिए उकसाता है। ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्म मिलने के लालच में युवतियां उलझ जाती हैं। युवतियों के शारीरिक और आर्थिक शोषण की बात भी सामने आई है।