ALL ब्रेकिंग क्षेत्रीय राज्य देश विदेश राजनीति मनोरंजन स्वास्थ्य
महाराष्ट्र, गुजरात से अपने क्षेत्रों को जाने वाले मजदूरों के लिए पीथमपुर नगरपालिका की अनूठी और अनुकरणीय पहल
May 7, 2020 • Rajesh Jauhri • क्षेत्रीय

पीथमपुर। शाम को 6:30 बजे नगरपालिका अध्यक्ष कविता वैष्णव मंडल महामंत्री सुभाष जायसवाल मंडल अध्यक्ष गणेश जयसवाल मनोज बाबा के हाथो से विश्राम गृह का शुभारंभ किया गया नगर पालिका अध्यक्ष कविता वैष्णव संजय वैष्णव ने फीता काटकर इस विश्रामगृह का शुभारंभ किया मंडल महामंत्री सुभाष जायसवाल ने बताया कि सुबह और शाम दोनों समय एक हजार भोजन के पैकेट देने का प्रावधान है इसके अलावा 2000 स्क्वायर फीट में टेंट हाउस लगाया गया है जहां 2 मीटर के दायरे में 500 बिस्तर लगाए गए हैं जिसमें सोने के लिए गद्दे ओढ़ने के लिए रजाई तकिए सभी व्यवस्था की गई है इसके अलावा जो भी श्रमिक या प्रवासी मजदूर दूर राज्यों या प्रदेशों से चलकर आएंगे सबसे पहले यहां सैनिटाइजर मशीन रखी गई है उस सैनिटाइजर मशीन में एक-एक प्रवासी मजदूरों को पूरी शरीर का सैनिटाइजर करके निकाला जाएगा और फिर इन्हें सारी व्यवस्थाएं दी जाएगी  आज गुरुवार से यहां विश्राम गृह का शुभारंभ हुआ है और जब तक लोक डाउन चलेगा तब तक यह व्यवस्था नगर पालिका के द्वारा की जाएगी पीने के पानी के लिए आरो मशीन रखी गई है।  और सभी के लिए अलग-अलग गिलास दिए गए हैं।  इसके अलावा मजदूरों को सोने और बैठने के लिए भी गोला बनाया गया है जहां विशेष डिस्टेंसिंग का ध्यान रखेंगे सुभाष जायसवाल ने बताया कि 4 सुरक्षा गार्ड तैनात रहेंगे जो दो सुबह और दो शाम को इन प्रवासी मजदूरों की निगरानी रखेंगे नगर पालिका अध्यक्ष कविता वैष्णव ने बताया कि मुंबई से चलकर करीब 35 मजदूर पहुंचे थे आज पीथमपुर जहां हमने उनके रुकने की व्यवस्था करवाई वहीं पंप हाउस पर रहने खाने और सोने की व्यवस्था करी है।  करीब 1000 किलोमीटर का पैदल सफर उन्होंने तय किया है इसके अलावा चलित शौचालय भी नगर पालिका की तरफ से व्यवस्था की गई है।  इस मौके पर संजय सोनी राम बिरला कमल पटेल मुख्य रूप से मौजूद थे। 

मुख्य नगरपालिका अधिकारी गजेंद्र सिंह बघेल ने बताया कि जितने भी प्रवासी मजदूर हैं।  उनके रहने खाने बिजली पानी शौचालय सभी व्यवस्था की गई है और उसके अलावा भी सिटी के अंदर भी जो मजदूर निकल रहे हैं उनकी भी खाने की व्यवस्था की गई है इसके अलावा घर घर-घर जाकर कच्चा सामग्री भी दिया जा रहा है।