ALL ब्रेकिंग क्षेत्रीय राज्य देश विदेश राजनीति मनोरंजन स्वास्थ्य
महू में सड़कों पर लग रहा है जाम, नहीं दे रहा प्रशासन ध्यान
June 11, 2020 • Rajesh Jauhri • क्षेत्रीय

महू में आज सुबह 9:00 से 5:00 तक दुकानों का संचालन हुआ दोपहर में 1:30 बजे के बाद सड़कों पर सन्नाटा पसर गया किंतु आज सुबह 9:00 बजे से 1:30 बजे तक महू शहर के कई हिस्सों में चार पहिया व दो पहिया वाहनों की आवाजाही काफी मात्रा में रहे प्रशासन द्वारा दो पहिया व चार पहिया वाहनों के लिए कोई प्लानिंग ही नहीं की गई जिसका खामियाजा आज शहर की सड़कों पर देखने को मिला लोग एक दूसरे से टकराते हुए चल रहे थे वाहनों की लोडिंग व अनलोडिंग होती रही शहर का यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ प्रशासन को चाहिए की सारे गली मोहल्लों को सील करें जिससे दोपहिया वाहनों की आवाजाही रुक जाए यदि ऐसा ही चलता रहा तो ऐसा ना हो की महू में कोरोना विसपोट हो जाए और शासन प्रशासन की गलती का खामियाजा महू की जनता को भुगतना पड़े

 

*नहीं रखा गया बैंकों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान*

महू के अधिकतर बैंकों के बहार टेंट लगा दिए गए हैं जिससे कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए रुपयों का लेनदेन कर सके किंतु कोतवाली चौक के समीप यूनियन बैंक पर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान ही नहीं रखा गया भीड़ एक ही जगह पर एकत्रित हो गई ना वहां पर बैंक का कोई सुरक्षाकर्मी मौजूद था ना कोई गार्ड कर्मचारी लेनदेन का काम करते रहे कर्मचारियों के द्वारा भी उनको रोका टोका नहीं गया वही नजदीक में कोतवाली थाना भी है वहां पर हमारे प्रतिनिधि द्वारा पुलिस को स्वयं जाकर बोला भी गया कि सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन हो रहा है कृपया वहां पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाएं किंतु पुलिस द्वारा कोई सख्त कदम नहीं उठाया गया ऐसा ना हो इन सब का खामियाजा महू और महू की जनता को उठाना पड़ जाए

 

*महू का सराफा बाजार हुआ कंटेनमेंट, बावजूद चल रही है अन्य गतिविधियां*

महू का सराफा बाजार जो कि न्या कंटेनमेंट जोन घोषित हुआ है वहां पर सुबह से ही लोगों की आवाजाही बनी रही सराफा बाजार अति संक्रमित क्षेत्र घोषित किया जा चुका है किंतु सराफा बाजार में ना कोई पुलिसकर्मी मौजूद था नहीं कैंटोनमेंट बोर्ड का कोई कर्मचारी वही पर एक निजी मेडिकल की दुकान संचालित हो रही थी जबकि नियमानुसार कंटेनमेंट जोन में किसी प्रकार की गतिविधि प्रतिबंधित होती है बावजूद इसके मेडिकल दुकान का संचालन होना और लोगों की आवाजाही होना अपने आप में सवालिया निशान खड़े करता है

 

*प्रशासनिक अधिकारी व पुलिस कर्मियों में नहीं है तालमेल*

महू में ऐसा लगता है की प्रशासनिक अधिकारी व पुलिस अधिकारी व उनके कर्मचारियों में तालमेल का अभाव है क्योंकि पूरे देश में व प्रदेश में रात्रिकालीन कर्फ्यू का समय रात 9:00 बजे से 5 बजे तक घोषित किया गया है वहीं महू एसडीएम प्रतुल सिन्हा के द्वारा भी कल जारी आदेश के अनुसार कर्फ्यू का समय रात्रि 9:00 बजे से 5:00 बजे तक घोषित किया गया है बावजूद इसके पुलिस प्रशासन की चार पहिया वाहनों के द्वारा रात्रिकालीन कर्फ्यू शाम 7:00 से 5:00 तक का अनाउंसमेंट किया जा रहा है यदि अधिकारी व कर्मचारियों में ही तालमेल नहीं होगा तो जनता पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा आपसी तालमेल बैठाना अधिकारी व कर्मचारियों के लिए जरूरी हो गया जिससे लोगों को उचित मैसेज दिया जा सके