ALL ब्रेकिंग क्षेत्रीय राज्य देश विदेश राजनीति मनोरंजन स्वास्थ्य
नगर परिषद में नियमित कर्मचारी नहीं होने से बहुत से काम लटके हुए हैं अधर में
June 10, 2020 • Lalit Dubey, Omkareshwar • क्षेत्रीय

ओंकारेश्वर ( नि प्र ) नगर परिषद ओकारेश्वर में नियमित कर्मचारियों की कमी को लेकर दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों से वर्तमान कार्य लिया जा रहा है मध्यप्रदेश शासन एवं नगरी प्रशासन विभाग द्वारा महत्वपूर्ण विभागों में नियमित कर्मचारी नहीं भेजने से काफी दिक्कतों का सामना नगर वासियों को भी करना पड़ रहा है तथा कई महत्वपूर्ण एवं निर्माण शाखा व अन्य शाखाओं के कार्य अधर में लटके हैं नगर परिषद में पूर्व में पदस्थ कई कर्मचारियों का तबादला अन्यत्र स्थान किया गया मुट्ठी भर कर्मचारियों के भरोसे तीर्थ नगरी ओकारेश्वर कि नगर परिषद का कार्य धीमी गति से चल रहा है नगर परिषद सीएमओ श्रीमती भावना पटेरिया द्वारा उप संचालक नगरीय प्रशासन विभाग इंदौर एवं वरिष्ठ अधिकारियों को नगर परिषद के पत्र क्रमांक 682 दिनांक 14 मई 2020 को अवगत कराया था कि निकाय में कई प्रकार के निर्माण कार्य प्रचलित हैं साथ ही नगर में जल प्रदाय का कार्य भी मुख्यमंत्री शहरी और अंघोसंरचना विकास योजना प्रधानमंत्री आवास योजना तथा नगर के अन्य विकास कार्य प्रचलित पर एवं नए कार्यों की भी निविदा दरें बुलाई गई है निकाय द्वारा उक्त कार्यो के संचालन व संसाधन हेतु एक अतिरिक्त उपयंत्री की मांग की गई थी पत्र को लेकर नगरी प्रशासन विभाग अधीक्षण यंत्री द्वारा नगर पालिका सनावत खरगोन में पदस्थ उपयंत्री श्री शिव सिह सोलंकी को अग्रिम आदेश एवं अस्थाई रूप से नगर परिषद ओकारेश्वर जिला खंडवा में निर्माण कार्यों के संपादन हेतु पर्यवेक्षक हेतु अधिकृत किया गया है शिव सोलंकी सनावद के निर्माण कार्यों के साथ नगर परिषद ओकारेश्वर में सप्ताह में 2 दिवस भ्रमण कर निर्माण कार्यो का संपादन निष्पादन करेंगे इसी प्रकार उपसंचालक नगरी प्रशासन विभाग के अभय रंजन गावकर द्वारा सनावद नगर परिषद में मुख्य लिपिक के पद पर कार्यरत श्याम सिंह चौहान जो पूर्व में नगर परिषद ओकारेश्वर में पदस्थ थे सप्ताह में दो दिवस के लिए लेखा कार्य संपादित किए जाने हेतु निर्देश दिए गए श्याम सिंह चौहान सनावद से ओकारेश्वर सप्ताह में 2 दिन अपनी सेवाएं नगर परिषद ओम.कारेश्वर में देंगे उपसंचालक नगरी प्रशासन इन्दौर विभाग द्वारा नगर परिषद ओकारेश्वर समस्याओं को लेकर दोनों अधिकारियों को यहां आगामी आदेश तक भेजा है