ALL ब्रेकिंग क्षेत्रीय राज्य देश विदेश राजनीति मनोरंजन स्वास्थ्य
सिंधिया का आना सुखद संकेत, अब सब मिलकर अन्याय के खिलाफ लड़ेंगे
March 13, 2020 • Rajesh Jauhri • राजनीति

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता लेने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा प्रदेश कार्यालय पहुंचने पर अभूतपूर्व स्वागत किया गया। ढोल-ढमाकों पर थिरकते कार्यकर्ताओं ने जोश और उत्साहपूर्वक श्री सिंधिया का स्वागत किया। इस अवसर पर आयोजित स्वागत समारोह में प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने श्री सिंधिया के पार्टी में आगमन को एक सुखद संकेत बताया। उन्होंने श्री सिंधिया को जहां एक तरफ यह भरोसा दिलाया कि पार्टी के कार्यकर्ता उन्हें कभी शिकायत का अवसर नहीं देंगे, वहीं दूसरी तरफ सबके साथ सम्मिलित रूप से अन्याय के खिलाफ संघर्ष करने के संकल्प को भी दोहराया। इस अवसर पर श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भावुक शब्दों में पार्टी काय्रकर्ताओं को यह भरोसा दिलाया कि अब मेरा एक ही लक्ष्य होगा और वह है आप सब के दिलों में जगह बनाना। इससे पूर्व एयरपोर्ट पर पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने श्री सिंधिया का भावभीना स्वागत किया और श्री सिंधिया को एक रोड शो के रूप में प्रदेश कार्यालय लाया गया।

सब मिलकर कांग्रेस की लंका को खाक कर देंगेः शिवराजसिंह चौहान

स्वागत समारोह को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री एवं पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जब से भारतीय जनता पार्टी में आए हैं, कांग्रेसी सो नहीं पाए हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लिये सत्ता सेवा का माध्यम है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एक गौरवशाली, वैभवशाली और समृद्धशाली राष्ट्र का निर्माण हो रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने चुनाव के दौरान मध्यप्रदेश में स्वर्ग बनाने की बात कही थी, परंतु आज तक कर्जामाफ नहीं कर पायी। प्रदेश को अराजकता में झौंकने का काम कमलनाथ सरकार ने किया है। इस सरकार का जनता से कोई सरोकार नहीं है। युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है। बेटियों को कन्यादान की राशि, लाड़ली लक्ष्मी की राशि नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि इस सरकार के पास किसानों के लिए पैसा नहीं है लेकिन आईफा के लिए भरपूर पैसा है। श्री चौहान ने कहा कि मिस्टर बंटाढार हम तो डूबेंगे सनम तुमको भी ले डूबेंगे की तर्ज पर कमलनाथ सरकार को ले डूबे है। इस सरकार ने भाजपा कार्यकर्ताओं, जनप्रतिनिधियों और जनता पर लगातार अत्याचार किए हैं। हर किसी पर केस दर्ज कराकर प्रताडित करने का काम किया। लेकिन अब सिंधिया जी हमारे साथ हैं और कांग्रेस की लंका को हम सब मिलकर जलाकर राख कर देंगे। हम सब संकल्प लेते हैं कि कांग्रेस सरकार को जब तक उखाडकर नहीं फेंकेगे चैन से नहीं बैठेंगे।

हम सब मिलकर अराजक प्रदेश सरकार को उखाड़ फेंकेंगेः विष्णुदत्त शर्मा

प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा ने श्री सिंधिया का स्वागत करते हुए कहा भाजपा का एक एक कार्यकर्ता आपका स्वागत करता है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में आज फिर से अन्याय के खिलाफ शंखनाद हुआ है। 1967 में डी.पी.मिश्रा जी की घोर अराजक सरकार को राजमाता जी ने उखाड़ फेंका था। अब ज्योतिरादित्य सिंधिया जी हमारे बीच हैं, निश्चित रूप से यह देखकर स्व. राजमाता जी आत्मा भी संतुष्ट हुई होगी। अब हम सब मिलकर प्रदेश की अराजक सरकार को उखाड़ फेंकेंगे। श्री शर्मा ने कहा कि आज सिंधिया जी ने हिम्मत करके जो निर्णय लिया है, वह स्वागत योग्य है। सिंधिया जी ने प्रदेश कांग्रेस सरकार को कहा था कि प्रदेश में गरीबों के साथ अन्याय हुआ, तो मैं  सड़क पर उतरूंगा। अब वह सड़क पर उतरे और कांग्रेस सड़क पर आ गयीं है। उन्होंने कहा कि सिंधिया जी ने मध्यप्रदेश में संघर्ष किया है। मैं उन्हें भरोसा दिलाना चाहता हूं कि भारतीय जनता पार्टी में शामिल होते समय उन्होंने जो संकल्प लिया था, पार्टी का हर कार्यकर्ता उस संकल्प को पूरा करने में उनके साथ है।

सिंधिया का आगमन शुभ संकेतः नरेंद्रसिंह तोमर

केंद्रीय मंत्री श्री नरेंद्रसिंह तोमर ने श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जी का स्वागत करते हुए कहा कि उनका भाजपा में आगमन पार्टी के लिये और प्रदेश की राजनीति के लिये एक शुभ संकेत है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर का इतिहास अत्यंत गौरवशाली रहा है। 1967 में कांग्रेस ने राजमाता सिंधिया जी के सम्मान को ठेस पहुंचाई थी। उस समय राजमाता जी के नेतृत्व में तत्कालीन सरकार को धराशायी कर दिया गया था। अब यह दूसरा अवसर है,  जब स्वाभिमान की रक्षा के लिये ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने कांग्रेस की सत्ता को ठुकराया है। श्री तोमर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी एक विचार आधारित , कार्यकर्ता आधारित परिवार है। एक कार्यकर्ता होने के नाते और एक केंद्रीय मंत्री होने के नाते मैं सिंधिया जी को यह विश्वास दिलाना चाहता हूं कि आपने जो साहस दिखाया है, पार्टी के कार्यकर्ता आपको कभी भी शिकायत का अवसर नहीं देंगे।

सिंधिया के आने से उत्साह का संचार हुआः गोपाल भार्गव

नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव ने श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया का स्वागत करते हुए कहा कि उनका आगमन मध्यप्रदेश ही नहीं देश देश की राजनीति के लिये भी सुखद है। उन्होंने कहा कि राजमाता विजयाराजे सिंधिया जी ने जो पार्टी रूपी पौधा रोपा था,  वह आज वटवृक्ष बन गया है। उन्होंने कहा कि उनके पार्टी में आने से देश के नौजवानों में उत्साह का संचार हुआ है। श्री भार्गव ने कहा कि सिंधिया जी आगे बढ़ें, भाजपा का एक एक कार्यकर्ता आपके सम्मान की रक्षा के लिए कृतसंकल्पित है। मध्यप्रदेश के विकास में आप और हम मिलकर अमूल्य योगदान देंगे।

आप पसीना बहायेंगे, मैं आपके लिये खून बहाऊंगाः सिंधिया

उपस्थित पार्टी काय्रकर्ताओं एवं नेताओं को संबोधित करते हुए श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मैं सौभाग्यशाली हूं कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी, पूर्व अध्यक्ष व गृह मंत्री श्री अमित शाह और परिवार के मुखिया श्री जेपी नड्डा जी के आशीर्वाद से इस परिवार में प्रवेश के द्वारा मेरे लिये खोले गए। उन्होंने कहा कि आज का दिन मेरे लिए भावुक है। जिस संगठन में मैंने 20 साल बिताए, कड़ी मेहनत, लगन,  संकल्प और पसीने की एक एक बूंद बहायी। उस पार्टी को छोड़कर आज खुद को आपके हवाले कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि मैं विश्वास दिलाता हूं कि अब मेरा एक ही लक्ष्य होगा आपके दिल में स्थाना पाना। आप पसीना बहायेंगे मैं आपके लिए अपना खून बहाउंगा। श्री सिंधिया ने कहा कि चाहे स्व. अटलजी हों, या प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी या सिंधिया परिवार की मेरी दादी विजयाराजे सिंधिया, मेरे पिताजी स्व. माधवराव सिंधिया हों, सभी का लक्ष्य जनसेवा रहा है और सिंधिया परिवार का  मुखिया होने के नाते मेरा लक्ष्य भी जनसेवा है। हमारे लिए कुर्सी और पद महत्वपूर्ण नहीं होता। हमारे लिए महत्वपूर्ण सम्मान, पहचान और आपके हृदय में स्थान पाना है। उन्होंने कहा कि किसी दल के अंदर रहकर आलोचना करना मुश्किल होता है। लेकिन मैं सिंधिया परिवार का खून हूं जो सही है उसे सही बोलता हूं। 1968 में मेरी दादी को ललकारा था, तब संविद सरकार का क्या हुआ सब जानते है। 1990 में मेरे पिताजी के उपर झूठे  हवाला कांड के आरोप लगाए और जब मैंने अतिथि विद्वानों, किसानों की बात उठाते हुए सडक पर उतरने की बात कही तो मुझे कहा कि उतरना है तो उतरो। सिंधिया परिवार को जब ललकारा जाता है तो परिणाम अलग होते है। आज मेरा सौभाग्य है, जिस दल को मेरी पूज्य दादी ने अपने पसीने से स्थापित किया। मेरे पिताजी ने जिस दल से राजनैतिक शुरूआत की। आज ज्योतिरादित्य सिंधिया सब छोड़कर उस दल में आया है। उन्होंने कहा कि 2018 के चुनाव में हम आमने सामने थे लेकिन आज हम साथ है। दल अलग हो सकते है, राजनैतिक विचार अलग हो सकती है लेकिन पक्ष विपक्ष में बैठकर मनभेद नहीं होना चाहिए। श्री शिवराजसिंह चौहान जैसा जनता के लिए दिन रात मेहनत करने वाला कार्यकर्ता देश और प्रदेश में बिरले ही मिलते है। आप और हम मिलकर एक और एक दो नहीं ग्यारह होंगे। इस प्रदेश के विकास में हम सहभागी बनेंगे।

इस अवसर पर विधानसभा में मुख्य सचेतक डॉ. नरोत्तम मिश्रा, पूर्व मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, श्रीमती यशोधराराजे सिंधिया, प्रदेश महामंत्री श्री बंशीलाल गुर्जर, श्री जफर इस्लाम सहित पदाधिकारी मंचासीन थे।

एयरपोर्ट पर वरिष्ठ नेताओं ने की अगवानी, कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत

दिल्ली से पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्रसिंह तोमर भोपाल पहुंचे। एयरपोर्ट पर पार्टी प्रदेश अध्यक्ष श्री विष्णुदत्त शर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया। इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव, जिलाध्यक्ष श्री विकास विरानी, श्री आलोक शर्मा, श्री आलोक संजर सहित वरिष्ठ नेताओं ने उनका फूलमालाओं से स्वागत किया। प्रदेश कार्यालय पहुंचने पर श्री सिंधिया का श्री नरेन्द्रसिंह तोमर, श्री शिवराजसिंह चौहान, श्री गोपाल भार्गव ने पुष्पगुच्छ भेंटकर स्वागत किया।

सिंधिया एवं सोलंकी 13 को भरेंगे नामांकन

भारतीय जनता पार्टी के नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं डॉ. सुमेर सिंह सोलंकी 13 मार्च को राज्यसभा चुनाव के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगे।

ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं डॉ. सुमेर सिंह सोलंकी 13 मार्च को दोपहर 12 बजे भाजपा कार्यालय पं. दीनदयाल परिसर पहुंचेंगे। यहां पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में राज्यसभा के उम्मीदवार द्वय श्री सिंधिया एवं श्री सोलंकी प्रदेश कार्यालय स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय जी, श्रीमंत राजामाता विजयाराजे सिंधिया जी, पितृपुरूष कुशाभाऊ ठाकरे जी की प्रतिमा माल्यार्पण कर नामांकन दाखिल करने विधानसभा रवाना होंगे।

ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं डॉ. सुमेर सिंह सोलंकी विधानसभा पहुंचकर पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री प्रभात झा, केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर, प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री विष्णुदत्त शर्मा, नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव, श्री नरोत्तम मिश्रा, श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, श्री भूपेन्द्र सिंह, श्री रामपाल सिंह, श्रीमती माया सिंह सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में नामांकन दाखिल करेंगे।